What is Web Hosting in Hindi – Best Hosting of 2021

अगर आप भी अपना एक ब्लॉग बनाकर पैसा कामना चाहते है तो इसके लिए आपको भी पहले ब्लॉग्गिंग की सभी जानकारिया पता होना चाहिए क्यूंकि बिना सही जानकारी के आप ब्लॉग्गिंग में कभी कामयाब नहीं हो पाएंगे और आज हम आपको ब्लॉग्गिंग की सबसे जरूरी चीज होस्टिंग के बारे में बताने जा रहे है. होस्टिंग क्या होती है, होस्टिंग किसे कहते है, होस्टिंग कितने प्रकार की होती है ये सभी बाते आज हम आपको बताने वाले है.

होस्टिंग क्या है – What is होस्टिंग in Hindi

होस्टिंग इंटरनेट पर मौजूद वह जगह है. जहाँ पर आपकी पूरी वेबसाइट या ब्लॉग होस्ट होती है और जब भी कोई विजिटर उस वेबसाइट या ब्लॉग को अपने किसी भी ब्राउज़र पर ( खोजता ) सर्च करता है. तो इंटरनेट उस होस्टिंग के होस्टिंग सर्वर पर जा कर विजिटर के किसी भी ब्राउज़र पर उस वेबसाइट को डिस्प्ले कर देता है.

इसे हम आपको और भी आसान भाषा में बताते है, मान लीजिये की आपको एक घर बनाना है. अब इस को आप एक वेबसाइट या ब्लॉग की तरह समझे, अब आपका वेबसाइट या ब्लॉग इंटरनेट पर तभी डिस्प्ले होगा. जब आपकी वेबसाइट या ब्लॉग हमेशा चालू रहे.

लेकिन अब चूँकि हमारे पास इतने पैसे नहीं है और न ही इतने संसाधन की हम खुद बड़े बड़े सर्वर install कर दें. अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को हमेशा चालू रखने के लिए, इसलिए हम दूसरा तरीका अपनाते है.

हम अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को दुसरे लोगो के कम्पुयटर यानि की सर्वर पर जमा रखते है. ये सर्वर बड़ी बड़ी होस्टिंग प्रोवाइडर करवाने वाली companies की होती है. इसमें से कुछ हिस्सा आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग के लिए लेते है, जिसके बदले में आपको उस होस्टिंग प्रोवाइडर company को पैसे देने पड़ते है.

अब आपकी वेबसाइट या ब्लॉग पर मौजूद सारा डाटा और जानकारी उन होस्टिंग प्रोवाइडरr companies के सर्वर पर जा कर जमा रहता है. जिसे आप पैसे दे रहे है, इसके बदले में आपकी वेबसाइट या ब्लॉग उन सर्वर पर जमा भी रहती है. साथ ही साथ इंटरनेट पर हमेशा चालू भी रहती है.

होस्टिंग काम कैसे करता है – How does होस्टिंग Work in Hindi

अब आपका वेबसाइट या ब्लॉग इस होस्टिंग के साथ एक unique IP एड्रेस के जरिये जुड़ा रहता है. जब भी कोई विजिटर आपकी वेबसाइट के डोमेन नाम को किसी भी किसी भी ब्राउज़र पर ( खोजता ) सर्च करता है.

तो इंटरनेट उस डोमेन के साथ connect IP एड्रेस को track करता है. जिसे track करते हुए वह आपके होस्टिंग प्रोवाइडर company के सर्वर तक पहुँच जाता है. फिर इंटरनेट उस सर्वर पर मौजूद जो भी डाटा और जानकारी है.

उन सभी में सिर्फ उन्ही जानकारी को उस विजिटर के किसी भी ब्राउज़र पर डिस्प्ले करता है. जिसके बारे में विजिटर ने Google या उसके जैसे दुसरे अन्य सर्च engines पर सर्च किया था.

अगर विजिटर सिर्फ आपके वेबसाइट या ब्लॉग के डोमेन नाम को ( खोजता ) सर्च करता है, तो इंटरनेट उस विजिटर के किसी भी ब्राउज़र पर आपकी पूरी वेबसाइट या ब्लॉग को डिस्प्ले करता है. अगर विजिटर आपके वेबसाइट या ब्लॉग डोमेन के साथ साथ किसी जानकारी को ( खोजता ) सर्च करता है.

होस्टिंग के प्रकार – How many Types of Hosting in Hindi

होस्टिंग कई Types के होते है, लेकिन इस Post में हम आपको सिर्फ उन्ही होस्टिंग के बारे बता रहे है. जोकि आज कल सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जा रहे है और जो आपके जरुरत के हिसाब से सबसे अच्छे भी हो सकते है.

(1) शेयर्ड Hosting

(2) VPS Hosting : Managed VPS & Unmanaged VPS

(3) डेडिकेटेड होस्टिंग सर्वर Hosting

(4) Cloud Hosting

1.शेयर्ड होस्टिंग क्या है – What is Shared hosting in Hindi

शेयर्ड होस्टिंग के नाम से ही पता चल रहा है की शेयर्ड होस्टिंग वह होस्टिंग होती है. जिसे एक से ज्यादा वेबसाइट या ब्लॉग आपस में शेयर करती है. इसे आसान भाषा में इस तरह से समझिये, जैसे की हॉस्टल में एक ही रूम को कई सारे लोग आपस में शेयर करते है ठीक उसी तरह से शेयर्ड होस्टिंग में एक ही सर्वर को कई हज़ारों वेबसाइट के साथ में शेयर किया जाता है.

अगर आप नए ब्लॉगर है या फिर आप पहली बार अपनी वेबसाइट या ब्लॉग बना रहे है. तो फिर आपको शेयर्ड होस्टिंग ही इस्तेमाल करनी चाहिए. जब आपकी वेबसाइट या ब्लॉग मशहूर होने लगे और आपके वेबसाइट या ब्लॉग पर बहुत ज्यादा लोग आने लगे. तब आपको अपनी होस्टिंग बदल लेनी चाहिए, ऐसा इसलिए कह रहे है. क्योकि शेयर्ड होस्टिंग में हजारों वेबसाइट या ब्लॉग एक होस्टिंग सर्वर पर host होती है. इसलिए जब किसी वेबसाइट या ब्लॉग पर ज्यादा लोग आने लगता है तो वेबसाइट या ब्लॉग slow हो जाती है. जिससे की विजिटर के किसी भी ब्राउज़र में आपकी वेबसाइट या ब्लॉग काफी late से open होती है. ऐसा होने पर आपके विजिटर आपकी वेबसाइट को छोड़ कर दुसरे वेबसाइट पर जाने लगते है.

2.VPS (वर्चुअल प्राइवेट सर्वर ) होस्टिंग क्या है – What is VPS Hosting in Hindi

VPS होस्टिंग वह होस्टिंग होती है जिसमे टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके होस्टिंग सर्वर को virtually एक दुसरे से अलग कर दिया जाता है. इसके लिए हर एक virtual होस्टिंग सर्वर के लिए different रिसोर्सेज का इस्तेमाल किया जाता है. VPS Hosting का सबसे बड़ा फायदा आपको यह मिलता है. की इसे आपको दुसरे वेबसाइट या ब्लॉग के साथ शेयर नहीं करना पड़ता, जिससे की आपकी slow down नहीं होती है.

लेकिन VPS होस्टिंग थोड़ी महँगी होती है, इसलिए हमारी सलाह यही है. की जब आपकी वेबसाइट में बहुत ज्यादा लोग आने तभी आपको VPS Hosting का इस्तेमाल करना चाहिए. लेकिन इस hosting को इस्तेमाल करने के लिए यह बहुत जरुरी होता है. की आपके पास इसे इस्तेमाल करने के लिए टेक्निकल नॉलेज होना चाहिए और अगर आपको टेक्निकल नॉलेज नहीं है तो फिर आपको VPS होस्टिंग को इस्तेमाल करने में परेशानी हो सकती है.

3.डेडिकेटेड होस्टिंग क्या है – What is Dedicated Hosting in Hindi

डेडिकेटेड होस्टिंग वह है, जिसके पुरे रिसोर्सेज को सिर्फ एक ही वेबसाइट या ब्लॉग के द्वारा इस्तेमाल किया जाता है. यानि की इस वेब होस्टिंग के होस्टिंग सर्वर में एक से ज्यादा वेबसाइट या ब्लॉग नहीं होता है. डेडिकेटेड वेब होस्टिंग के सर्वर पर सिर्फ एक ही वेबसाइट का डाटा, जानकारी और फाइल्स को जमा करके रखा जाता है.

जहाँ शेयर्ड होस्टिंग में एक ही होस्टिंग सर्वर को कई वेबसाइट या ब्लॉग इस्तेमाल करती है. वही डेडिकेटेड होस्टिंग एक घर की तरह होता है जिसके हर एक चीज पर सिर्फ और सिर्फ एक वेबसाइट का अधिकार होता है.

दुसरे types होस्टिंग के मुकाबले में डेडिकेटेड वेब होस्टिंग की परफॉरमेंस और सिक्यूरिटी ज्यादा बेहतर होती है. जिससे की आपकी वेबसाइट को किसी भी हैकर के द्वारा जल्दी से हैक कर पाना लगभग नामुमकिन होता है. डेडिकेटेड होस्टिंग को इस्तेमाल करने के लिए भी आपके पास टेक्निकल नॉलेज का होना बहुत जरुरी है.

क्लाउड वेब होस्टिंग क्या है – What is Cloud Hosting in Hindi

क्लाउड होस्टिंग एक ऐसी टाइप की होस्टिंग है जो सबसे ज़्यादा महंगी होती है और ये होस्टिंग ज़्यादातर बड़ी बड़ी वेबसाइट या ब्लॉग के लिए होती है. जैसे की अमेज़ॉन, फ्लिपकार्ट या किसी ईकॉमर्स वेबसाइट इस तरह की होस्टिंग पर होस्ट की जाती है.

क्लाउड होस्टिंग की सबसे अच्छी बात ये है की इसमें आपको टेक्निकल नॉलेज न होने के बाद भी आप इसे काफी हद तक इस्तेमाल करते सकते है क्यूंकि क्लाउड होस्टिंग में पूरी सिक्योरिटी होस्टिंग प्रोवाइडर की संभालते है और इस क्लाउड होस्टिंग में आपकी वेबसाइट पर एक साथ हज़ारों लोग भी आजाये तब भी आपकी वेबसाइट की स्पीड स्लो नहीं होती ै.

जैसे की आपने भी कई बार देखा होगा की बड़ी बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग की वेबसाइट पर या न्यूज़ की वेबसाइट पर एक साथ कई सारे लोग न्यूज़ पढ़ते है लेकिन इसके बाद भी उन वेबसाइट की स्पीड स्लो नहीं होती है, ऐसा इसीलिए होता है क्यूंकि वो लोग क्लाउड होस्टिंग का इस्तेमाल करते है. अगर आप भी क्लाउड होस्टिंग का इस्तेमाल करना चाहते है तो आप होस्टिंग से क्लाउड होस्टिंग खरीद सकते है क्यूंकि यहाँ पर आपको सस्ते दाम पर क्लाउड होस्टिंग भी मिल जाएगी साथ ही साथ आपको किसी भी बात की चितना करने की कोई जरूरत नहीं होगी। क्यूंकि यहाँ पर क्लाउड होस्टिंग के सभी काम होस्टिंगर की टीम संभालेगी और आपको पर अपनी वेबसाइट को संभालना होगा और अगर आपको उसमे भी को परेशानी आती है तो आप होस्टिंगर की टीम से बात करके अपनी प्रॉब्लम को सोल्वे कर सकते है.

वेब होस्टिंग कहाँ से खरीदें – Best Hosting of 2021 in Hindi

1.Hostinger- 80% Discount : Starting Price RS.59 :
सबसे बेस्ट होस्टिंगर प्रोवाइडर, खास कर उन लोगों के लिए जिनको टेक्निकल नॉलेज नहीं है.

2.NameCheap : Cheap Hosting Service :
सस्ती और अच्छी होस्टिंग लेने के लिए बेस्ट है साथ ही साथ सब कुछ अनलिमिटेड यानि की कोई लिमिट नहीं किसी भी प्लान पर.

3.BigRock : low-cost web hosting in india :
अगर आपकी वेबसाइट हिंदी में है तो आपको यहाँ से होस्टिंग खरीदनी चाहिए क्यूंकि ये इस इंडियन होस्टिंग प्रोवाइडर है और इनका डाटा सेंटर भी इंडिया में ही है जिससे की आपकी वेबसाइट की स्पीड हमेशा फ़ास्ट रेहगी।

4.BlueHost : Best Hosting With Free CDN & Caching :
वर्डप्रेस वेबसाइट के लिए फ़ास्ट होस्टिंग साथ ही साथ कमल के फीचर्स भी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.